Social Welfare Minister Uttarakhand

Hit Counter 0000254501 Since: 15-08-2014

तिलू रौतेली विशेष पेंशन योजना

प्रिंट

तिलू रौतेली विशेष पेंशन योजना

कृषि व्यवसाय में संलग्न महिलाओं के कृषि कार्य में विकलांग होने की स्थिति में उन विकलांग महिलाओं को ‘‘तिलू रौतेली विशेष पेंशन योजना‘‘ के अन्तर्गत प्रतिमाह रू0 800/- भरण पोषण अनुदान प्रदान किये जाने के लिए राज्य में पूर्व से संचालित ‘‘विकलांग भरण पोषण अनुदान योजना‘‘ के प्राविधानों में निम्न शर्तो एवं प्रतिबन्धों के अधीन शिथिलता प्रदान किये जाने की श्री राज्यपाल सहर्ष स्वीकृति प्रदान करते हैः-

1- प्रश्नगत योजना राज्य में पूर्व से संचालित ‘‘विकलांग भरण पोषण अनुदान योजना‘‘ में शिथिलता प्रदान करते हुए प्रारम्भ की  जा रही है। शिथिलीकरण के फलस्वरूप ग्रामीण क्षेत्रों में कृषि व्यवसाय में संलग्न महिलाओं के कृषि कार्य में विकलांग होने के  फलस्वरूप विशेष परिस्थिति में यह सहायता प्रदान की जा रही है। अतः पूर्व से लागू योजना के रहते हुए भी इस योजना का  नाम ‘‘तिलू रौतेली विशेष पेंशन योजना‘‘ दिया जा रहा है।

2- प्रश्नगत योजना में मासिक आय सीमा का प्राविधान नहीं है तथा योजना 01 अप्रैल, 2014 से लागू है।

3- योजना का लाभ ऐसी ग्रामीण महिलाओं को अनुमन्य होगा, जिनकी विकलांगता का प्रतिशत 20 से 40 के मध्य हो।

4- महिला की उम्र 18 वर्ष से अधिक एवं 60 वर्ष तक हो तथा सामाजिक सुरक्षा कार्यक्रम के अन्तर्गत किसी अन्य योजना का  लाभ प्रदान नहीं हो रहा है।

5- ऐसी महिला यदि 60 वर्ष की उम्र प्राप्त कर लेती है एवं तत्समय वह वृद्धावस्था पेंशन हेतु पात्रता में आती है, तो उसे  वृृद्धावस्था पेंशन स्वीकृत की जायेगी एवं यह सुविधा समाप्त कर दी जायेगी। प्रतिबन्ध यह है कि जब तक सम्बन्धित महिला  को वृद्धावस्था पेंशन स्वीकृत/भुगतान नहीं होती, तब तक उसे इस योजना से पेंशन जारी रखी जायेगी।