Social Welfare Minister Uttarakhand

Hit Counter 0000290962 Since: 15-08-2014

विकलांग पेंशन

प्रिंट

विकलांग भरण पोषण अनुदान:-

      प्रदेश में दृष्टिबाधित, मूक बधिर तथा शारीरिक रूप से विकलांग निराश्रित ऐसे व्यक्तियों को जिनका जीवन यापन के लिए स्वयं का न तो कोई साधन है और न ही वे किसी प्रकार का ऐसा परिश्रम कर सकते हैं, जिससे उनका भरण पोषण हो सके, इस उद्देष्य से निराश्रित विकलांगजनों को सामाजिक सुरक्षा के अर्न्तगत जीवन-यापन हेतु सरकार की कल्याणकारी योजना के अर्न्तगत निराश्रित विकलांग भरण-पोषण अनुदान दिये जाने की योजना लागू की गयी जिसे सामान्यतया विकलांग पेंशन के नाम से भी जाना जाता है।  

   विभिन्‍न श्रेणी के निराश्रित विकलांग व्‍यक्तियों को निम्‍न मानकों एवं दरों के अनुसार भरण पोषण अनुदान दिया जाता है:-

1- अभ्‍यर्थी की विकलांगता कम से कम 40 प्रतिशत होने का प्रमाण-पत्र मुख्‍य चिकित्‍सा अधिकारी द्वारा प्रदान किया गया हो ।

2- अभ्यर्थी की आय का कोई साधन न हो अथवा बी०पी०एल० चयनित परिवार से संबंधित हो अथवा मासिक आमदनी रु०  4000/- तक हो । 

3- अभ्यर्थी का पुत्र/पौत्र 20 वर्ष से अधिक आयु का है, किन्तु गरीबी की रेखा के नीचे जीवन यापन कर रहा हो, तो ऐसे अभ्यर्थी भरण-पोषण अनुदान के पात्र होंगे।   

4- विकलांग भरण पोषण अनुदान रुपये 800/- प्रतिमाह।

5- कुष्ठ रोग से मुक्त विकलांगों को रुपये 1000/- प्रतिमाह।

6- 0-18 वर्ष तक की आयु से विकलांग बच्चों के अभिभावकों को रुपये500.00 मासिक भत्ता दिया जाता है।

7- मानसिक रूप से विकलांग पत्नी/पति को रुपये(800+400)=1200.00 की मासिक पेंशन दी जाती है।

 इन्दिरा गॉधी राष्ट्रीय विकलांगता पेंशन योजनार्न्‍तगत गरीबी की रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले 18 वर्ष  से 59 वर्ष तक आयु के 80% विकलांग अथवा बहु  विकलांगता वाले अभ्यर्थी को कुल रु 800.00 जिसमें  रु 600.00 राज्य सरकार तथा रुपये 200.00 भारत सरकार द्वारा अनुदान दिया जायेगा।

इन्दिरा गॉधी राष्ट्रीय विकलांग पेंशन योजना :

  इस योजना में निराश्रित विकलांग पेंशन पाने के पात्र व्यक्तियों में से ही बी०पी०एल० चयनित परिवारों के 18 वर्ष से 59 वर्ष आयु के 80 प्रतिशत विकलांगता अथवा बहुविकलांगता वाले विकलांग जनों को इस योजना से आच्छादित किया जाता है । इस योजना  के अन्तर्गत रू. 800.00 पेंशन दी जाती है जिसमे राज्य सरकार द्वारा रु.600/- तथा रु. 200/-की धनराशि केन्द्र सरकार द्वारा प्रदान की जाती है।इस प्रकार इस योजना में दिनांक 1.10.2012 से इन्दिरा गॉधी राष्ट्रीय विकलांग पेंशन योजना के लाभार्थियों को प्रतिमाह रु० 800.00 मासिक पेंशन प्रदान की जाती है।

 फार्म के लिये यहां क्लिक करें